मेट्रो फेज-4 के दो नए कॉरिडोर निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया जल्द

in #wortheumnews10 days ago

1000056869.pngदिल्ली के लोगों को 2028 तक मेट्रो के दो नए कॉरिडोर की सौगात देने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इसमें इंद्रलोक-इंद्रप्रस्थ मेट्रो और लाजपत नगर-साकेत जी ब्लॉक मेट्रो कॉरिडोर शामिल हैं। इसके निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण समेत अन्य आवश्यक अनुमतियों के लिए वैधानिक मंजूरी की प्रक्रिया शुरू कर की गई है। यह काम पूरा होने के बाद ढांचागत निर्माण के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू की जाएगी। मेट्रो फेज- 4 के तहत आने वाले दोनों कॉरिडोर गोल्डन और ग्रीन लाइनों का विस्तार हैं। लोकसभा चुनाव की घोषणा से पहले 13 मार्च को इन दोनों कॉरिडोर को केंद्र सरकार ने स्वीकृति दी थी। इसके अगले ही दिन केंद्र सरकार ने इन दोनों कॉरिडोर का शिलान्यास भी किया था।

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के अनुसार फेज चार के इन दोनों कॉरिडोर के निर्माण के लिए इस वर्ष 28 मार्च को 8,399 करोड़ 81 लाख रुपये का बजट स्वीकृत हुआ। इस लागत से इन दोनों कॉरिडोर का निर्माण किया जाएगा। लाजपत नगर-साकेत जी ब्लॉक कॉरिडोर का पूरा हिस्सा एलिवेटेड होगा। इसलिए इसके निर्माण की प्रक्रिया पहले शुरू हो सकती है। इंद्रलोक-इंद्रप्रस्थ कॉरिडोर का एक किलोमीटर हिस्सा छोड़कर बाकी हिस्सा भूमिगत होगा। इसलिए इस कॉरिडोर के निर्माण में चुनौतियां ज्यादा होंगी। मौजूदा समय में दिल्ली विकास प्राधिकरण, सीपीडब्ल्यूडी और पीडब्ल्यूडी से भूमि अधिग्रहण और वन मंजूरी आवश्यकताओं सहित वैधानिक मंजूरी के लिए प्रक्रिया की जा रही है। इसके बाद ट्रैक बिछाने, इलेक्ट्रिसिटी लाइन, सिग्नलिंग और अन्य तकनीकी चीजों के लिए विशेष अनुबंध पर आगे बढ़ने से पहले, सिविल कार्यों के लिए प्लानिंग और टेंडर से संबंधित आगे की प्रक्रियाएं की जाएंगी। अधिकारियों का कहना है कि दोनों कॉरिडोर को 2028 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।