पूर्व सांसद इन्द्रजीत मिश्र ने मध्यावधि चुनाव में भाजपा से लोकसभा सीट पर किया था कब्जा

in #santkabirnagar22 days ago

संतकबीरनगर।संतकबीरनगर के खलीलाबाद लोकसभा सीट पर वर्ष 1998 में फिर मध्यावधि चुनाव हो गया। इस बार भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़े दल सत्ता में आए। खलीलाबाद संसदीय सीट पर भी इस चुनाव में भाजपा ने कब्जा जमाया। सजपा से अलग होकर मुलायम सिंह के नेतृत्व में गठित समाजवादी पार्टी दूसरे स्थान पर रही। बसपा तीसरे, नेलोपा चौथे और कांग्रेस पार्टी पांचवें स्थान पर रही।
1996 में कांग्रेस के चुनाव में विपक्षी दलों ने सरकार बनाई थी। इस सत्र में तीन बार सरकार गिरी। तीन बार प्रधानमंत्री बदले। फिर भी कार्यकाल पूरा नहीं हुआ। 1998 में आखिर मध्यावधि चुनाव हो गया। 1998 में हुए चुनाव में खलीलाबाद लोकसभा सीट से भाजपा ने अपना प्रत्याशी बदल इंद्रजीत मिश्र को प्रत्याशी बनाया। इस चुनाव में सजपा से अलग होकर मुलायम सिंह के नेतृत्व में गठित समाजवादी पार्टी ने भालचंद्र यादव को अपना प्रत्याशी बनाया। वहीं बसपा ने राम प्रसाद चौधरी को अपना प्रत्याशी बना मैदान में उतारा। इसके अलावा नेलोपा से जफर अली ने चुनाव लड़ा। कांग्रेस की तरफ से मो. नबी खान को प्रत्याशी बनाया गया।1998 के चुनाव के बाद हुई मतगणना में केन्द्र में भाजपा गठबंधन की सरकार बनी थी। अटल बिहारी वाजपेयी दोबारा प्रधानमंत्री बने थे। खलीलाबाद सीट पर भी भाजपा ने फिर कब्जा जमा लिया। इस बार भाजपा के प्रत्याशी इंद्रजीत मिश्र 197149 (30.86) मत पाकर सांसद चुन लिए गए। नए दल समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़े भालचंद्र यादव ने कड़ी टक्कर दी। 195049 (30.53) मत पाकर दूसरे स्थान पर रहे। बसपा के प्रत्याशी राम प्रसाद चौधरी 181202 (28.37) मत तीसरे स्थान पर रहे। नेलोपा के प्रत्याशी जफर अली 16962 (2.56) मत पाकर चौथे स्थान पर रहे। कांग्रेस पार्टी के मो. नबी खान 12885 (2.02) मत लेकर पांचवे स्थान से संतोष करना पड़ा।

1000252418.jpg