2.10 लाख किसानों को जल्द मिलेगी सम्मान निधि

in #politician10 days ago

farmer_1571655859.jpg
खरीफ सीजन के पहले निधि की 17वीं किश्त मिलने से खेती-किसानी में मिलेगी सुविधायोजना के तहत तीन किश्तों में किसानों को मिलते हैं दो-दो हजार रुपये
संवाद न्यूज एजेंसी
अमेठी सिटी। किसान सम्मान निधि का इंतजार कर रहे किसानों को सम्मान निधि की 17वीं किस्त का तोहफा जल्द मिलने जा रहा है। जिले के 2.10 लाख किसानों का डाटा डीबीटी पोर्टल पर अपडेट हो चुका है। ई-केवाईसी पूरी करा चुके किसानों के खाते में धान रोपाई से पहले सम्मान निधि पहुंचने की संभावना है। ऐसे में खरीफ सीजन में किसानों को सम्मान निधि से मिलने से सुविधा होगी।
योजना के तहत जिले में 3,33,534 किसानों ने पंजीकरण कराया था। पंजीकृत किसानों के आवेदनों की जांच में पात्र मिले 3,02,535 किसानों को जोड़ते हुए अनुदान राशि उनके बैंक खाते में अंतरित करते हुए लाभान्वित किया जा रहा है। योजना को पारदर्शी बनाने के लिए ई-केवाईसी अनिवार्य की गई।केवाईसी समेत अन्य जांच पूरी होने के बाद फरवरी माह में सम्मान निधि के पात्र 1,10, 540 किसानों को भुगतान हुआ था। तब से किसान सम्मान सम्मान निधि का इंतजार कर रहे कृषकों के खाते में जल्द ही सम्मान निधि की 17वीं किश्त अंतरित होगी। हालांकि अभी विभाग के पास किसान सम्मान निधि कब अंतरित होगी इस संबंध में कोई लिखित पत्र नहीं आया है। लेकिन शपथ ग्रहण के बाद प्रधानमंत्री के संबोधन में जल्द किसान सम्मान भुगतान करने की बात कहने के बाद उम्मीद बढ़ गई है।
फिलहाल कृषि विभाग की ओर से पोर्टल पर सत्यापन व ई-केवाईसी पूर्ण करवाने वाले 2,10,103 किसानों का डाटा डीबीटी पोर्टल पर लॉक किया जा चुका है। ऐसे में इन किसानों के खाते में जल्द ही सम्मान निधि पहुंचने की उम्मीद है। फिलहाल लगातार जागरूकता व कैंप के बावजूद ई-केवाईसी नहीं कराने वाले किसानों को निधि की राशि से वंचित रहना होगा।

अपात्रों की जानकारी मिलने पर कराई जांच
जब योजना में अपात्रों के लाभान्वित होने का मामला प्रकाश में आया तो जांच कराई गई। जांच के बाद ई-केवाईसी अनिवार्य करते हुए भू-लेख डाटा समेत अन्य अपलोडिंग कराई गई। गांव-गांव अभियान चलाकर कृषि विभाग ने पात्र किसानों को योजना से लाभान्वित करने का भरपूर प्रयास किया। कृषि विभाग के मौजूद आंकड़ों के अनुसार
पीएम किसान योजनान्तर्गत कुल पंजीकृत किसान 333534
किस्त पाने वाले किसानों की संख्या - 302353
इनकम टैक्स भुगतान करने वाले किसानों की संख्या- 1965
मृतक किसानों की संख्या - 15654
सोलहवीं किस्त पाने वाले किसानों की संख्या - 110540
17 किस्त लाॅक करने के लिए प्राप्त डाटा संख्या - 210103
ईकेवाई पूर्ण किसानों की संख्या - 250383
ऐसे किसानों की संख्या जिनके द्वारा एनपीसीआई, भूलेख अंकन एवं ईकेवाईसी पूर्ण हैं - 221032

पात्रों को लाभ दिलाने का प्रयास
किसान अपने स्मार्ट फोन या जनसेवा केंद्र के माध्यम से अपनी ई-केवाईसी पूर्ण करा लें, ताकि उनको योजना का लाभ मिल सके। विभाग की कोशिश है कि शत-प्रतिशत पात्र किसानों को योजना से लाभान्वित किया जाएगा। -हरिओम मिश्र, उपसंभागीय कृषि प्रसार अधिकारी