नौनिहालों के भविष्य से हो रहा खिलवाड़

in #ghiror2 months ago

IMG-20240301-WA0010.jpg

स्कूल के दो कमरों में से एक में पड़ा ताला और एक में फैला पड़ा है सामान

घिरोर,

शिक्षा विभाग में सुधार को लेकर सरकार चाहे कितने भी प्रयास कर ले लेकिन कुछ जिम्मेदारों की उदासीनता और लापरवाही के चलते स्थिति जस की तस रहती है । आपको बताते चलें कि घिरोर विकासखंड क्षेत्र के ग्राम हवेलिया में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षा की स्थिति बहुत ही बदहाल है ।शुक्रवार को ना तो एक भी छात्र मिला और ना ही उनके बैठने की कोई व्यवस्था दिखाई दी ।

कहने को तो स्कूल में 31 बच्चे पंजीकृत हैं पर एक भी बच्चा पढ़ता नहीं दिखाई दिया। साथ ही परिसर में दो क्लासरूम बने हुए हैं जिसमें से एक में ताला पड़ा हुआ है और दूसरे में स्टोर रूम की तरह सामान पड़ा हुआ है । वहीं शिक्षामित्र ब्रजेश कुमार आराम से मोबाइल चलाते मिले जब उनसे स्कूल के बारे में पूछा गया तो जवाब ना देते हुए बचते - बचाते नजर आए जबकि स्कूल के इंचार्ज अध्यापक श्रीकृष्ण घिरोर बीआरसी पर ट्रेनिंग में गए हुए थे ।

ग्रामीणों से जब बात की गई उन्होंने बताया स्कूल का हाल बहुत बुरा है ना समय पर खुलता है और समय से पहले ही बंद हो जाता है । शिक्षक पढ़ाई पर ध्यान नहीं देते इसलिए बहुत से लोग प्राइवेट स्कूल में बच्चों को पढ़ाने के लिए मजबूर हैं ।