बिजूरी थाना अंतर्गत अंधी हत्या का खुलासा, 5 आरोपी गिरफ्तार

in #anuppur23 days ago

अनूपपुर जिले की बिजुरी थाना क्षेत्र अन्तर्गत 26 मार्च 2024 की रात कोरजा रोड़ टिकरी खेरवा में सुनसान मैदान में महुआ पेड़ के पास मिली अज्ञात व्यक्ति की लाश पर मर्ग कायम कर जांच में लिया गया था, जिस पर घटना स्थल निरीक्षण एवं शव की शारीरिक चोटों से प्रथम दृष्टया हत्या का मामला पाये जाने पर अपराध कमांक 93/24 धारा 302,201 भा०द०वि० का कायम कर विवेचना में लिया गया था। मृतक एवं अज्ञात आरोपियों की जानकारी देने वालों को डी०सी० सागर अति० पुलिस महानिदेशक शहडोल द्वारा 30,000/-रूपये की ईनाम दिये जाने की उ‌द्घोषणा की गई थी। जिसके बाद बिजुरी पुलिस सहित कोतमा अनुभाग की पुलिस की लगातार सक्रियता व वरिष्ठ अधिकारी के मार्गदर्शन के कारण बिजुरी पुलिस को मिली सफलता जिसके बाद बिजुरी पुलिस ने किया खुलासा जिसमे 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें जेल भेजा गया है ।
बिजुरी पुलिस थाना अंतर्गत अज्ञात शव के मिलने के 24 घंटे में मृतक की शिनाख्त सूर्यनारायण उर्फ मिर्ची कोल पिता कोमला कोल उम्र 20 वर्ष नि० ठोड़हा थाना कोतमा के रूप में हुई । मृतक 25 मार्च 2024 की रात से घर से बाहर गया तथा दिनांक 26 मार्च की रात उसका शव घटना स्थल बिजुरी के पास पाया गया, परिवारजन एवं ग्रामीणों से पुलिस द्वारा बारीकी से पूछताछ की गई जो संदेहियों के बारे में जानकारी दी, जिस पर संदेहियों से पूछताछ की गई, पूछताछ के दौरान 5आरोपी दुर्योधन विश्वकर्मा पिता मंगलू विश्वकर्मा उम्र 30 वर्ष, बीरन प्रसादकोल पिता रामस्वरूप कोल उम्र 24 वर्ष, उमेश उर्फ छोटू कोल पिता रामस्वरूप कोल उम्र 20 वर्ष, मदन चौधरी पिता लाला प्रसाद चौधरी उम्र 28 वर्ष, राकेश चौधरी पिता सुरेश चौधरी उम्र 20 वर्ष सभी नि० ठोड़हा थाना कोतमा के द्वारा यह खुलासा किया गया।
पैसे का दिखावा बना मौत का कारण, पुलिस की पूछतांछ के दौरान खुलासा हुआ की मृतक मिर्ची उर्फ सूर्यनारायण कोल अपने पैसे का दिखावा करता था, अपने दोस्तों की गरीबी का मजाक उड़ाता था जिससे उपरोक्त आरोपी मृतक से रंजिश रखते थे दिनांक 25.03.24 को मृतक द्वारा आरोपी छोटू उर्फ उमेश कोल के साथ मारपीट का मजाक बनाया गया इसके साथ ही मृतक सूर्यनारायण के सामने मृतक के जीजा आनन्द के द्वारा छोटू उर्फ उमेश कोल के साथ मारपीट कर दी गई. जिससे नाराज होकर आरोपियों द्वारा मृतक की हत्या करने की योजना बनाई गई जिसमें मृतक को बिजुरी से बाहर सुनसान मैदान का चयन किया तथा मिर्ची उर्फ सूर्यनारायण कोल को उक्त स्थान पर बातचीत के बहाने ले जाकर उसके साथ मारपीट की और उसका मोबाईल छीन लिया एवं उसके कपड़े पलट दिये। पाँचों आरोपियों द्वारा लकड़ी, राड, पत्थर, ईंटों के साथ ही बियर की बोतल को फोडकर उससे मारकर गम्भीर चोटें पहुँचाकर उसकी हत्या कर दी। उसकी पहचान बताने वाले दस्तावेज और मोबाईल को अपने साथ मृतक की पहचान छुपाने की नियत से अपने साथ ले जाया गया जो मोबाईल, दस्तावेज, घटना में प्रयुक्त वाहन मोटर सायकल एवं हत्या के प्रयुक्त हथियार आरोपियों के कब्जे से जप्त किया गया है और उपरोक्त आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया है।